Power Sharing| Matric Political Science| Bihar Board-Alok Official

नमस्ते

जय हिंद

स्वागत  है  आपका  हमारे  ब्लॉग में, संभवतः

आपका  पढ़ाई  सही  चल  रहा  होगा  | power sharing is needed

for excellence is anything. मैट्रिक

के बोर्ड परीक्षा में अब अधिक अंक लाना आसान

हो गया है । इसके लिए जरूरत होता है सही

रणनीति का और मेहनत का  । रणनीति यह है

कि आप अधिक से अधिक vvi प्रश्न उत्तर पढ़े

और उसका अभ्यास करें  । राजनीति हमारे जीवन

का महत्वपूर्ण भाग के तरह हो गया है । यह हमारे

घर से ही आरंभ हो जाता है फिर पंचायत स्तरीय,

राज्य स्तरीय और राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर

होता रहता है । इसके बहुत सारे पहलू होते हैं जिसे

हम राजनीति विज्ञान के अंतर्गत पढ़ेंगे  ।

इस भाग  में  हम  चर्चा  करेंगे  राजनीति  विज्ञान

के  पहले  अध्याय  power sharing का |

अर्थात् इसमें हम ये देखेंगे की आखिर क्या जरूरत

हो गयी की शक्ति को विभिन्न स्तर में और विभिन्न

वर्गों के बीच बांटा गया  । गणतंत्र में सारी शक्ति

एक अंग के पास नहीं रहना चाहिए इससे शक्ति

का दुरुपयोग होता है इसीलिए उचित यह होता है

की शक्ति को सरकार के विभिन्न अंग जैसे विधायिका,

कार्यपालिका और न्यायपालिका के बीच बाँटा जाए  ।

Table of Content:
a) अध्याय के अंतर्गत महत्वपूर्ण टॉपिक
b) ऑब्जेक्टिव प्रश्न उत्तर
c) लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर 
d) दीर्घ उत्तरीय प्रश्न उत्तर 

सबसे  पहले  जिस  अध्याय   के     लिए

content     बनाया  जायेगा      उसका

महत्वपूर्ण   टॉपिक  रहेगा । यह इसलिए

रहेगा कि कम समय में आप पूरे अध्याय

को बेहतर  तरीके से पढ़ सके,   revise

कर सके । फिर ऑब्जेक्टिव,लघु उत्तरीय

और   दीर्घ   उत्तरीय   प्रश्न    उत्तर    को

बताया जायेगा ।

जिसमें पहले पूर्व वर्ष का प्रश्न उत्तर फिर

आगामी वर्ष के लिए सभी संभावित प्रश्न

उत्तर होगा ।

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

BSEB MATRIC POLITICAL SCIENCE Chapter 1: Power Sharing

 

a) अध्याय के अंतर्गत महत्वपूर्ण टॉपिक

1) श्रीलंका के बारे में संक्षेप में- 

* 74% सिंहाली बोलने वाला आबादी

* 18% आबादी तमिल भाषी

*8% अन्य भाषा बोलने वाला

– श्रीलंका का मूल निवासी तमिल

– भारतीय मूल का तमिल

* मुख्य धर्म- बौद्ध, हिंदू, मुस्लिम, ईसाई

* स्वतंत्र देश- 1948 में बना, जिसके बाद

 सिंहाली बहुलता में राजनीति में भाग लिया

* 1956 में, सिंहाली को एक मात्र अधिकारिक

भाषा बनाया गया  |

* इसके बाद सिंहाली और बौद्ध को सरकारी

नौकरी और सरकारी सुविधा दिया जाने लगा | 

* जिससे तमिल और अन्य के साथ भेदभाव और

असमानता हो रहा था | 

* फिर बहुत सारा राजनीति दल तमिल के द्वारा 

बनाया गया और तमिल को अधिकारिक

भाषा बनाने का माँग किया जाने लगा, और

तमिल अपने लिए देश का अलग हिस्सा मांगने 

लगा  | 

 

2) बेल्जियम संक्षेप में-

बेल्जियम;

* 59% आबादी फ्लेमिश क्षेत्र में रहता है जो डच 

भाषा बोलती है  |

* 40 % आबादी वेलोनिया क्षेत्र में रहता है जो 

फ्रेंच बोलता है  | 

* 1% बेल्जीयन जर्मन बोलता है |

ब्रुसेल्स राजधानी में; 

* 80% आबादी फ्रेंच बोलने वाला है |

* 20% आबादी डच बोलने वाला है  |

बेल्जियम का संविधान:

a) केंद्रीय सरकार में डच और फ्रेंच भाषा बोलने 

वाला मंत्री का संख्या बराबर होगा  ।

b) राज्य सरकार, केंद्र सरकार के अंतर्गत नहीं होगा  ।

अर्थात् दोनों स्वतंत्र होगा  ।

 

3) शक्ति वितरण का प्रकार:

                  प्राचीन समय से शक्ति एक ही व्यक्ति

या अंग के पास रहता था क्योंकि पहले राजतंत्र

(राजा का शासन) था  । लेकिन जैसे ही गणतंत्र

का आगमन हुआ सब बदल गया । जैसा कि नाम

से स्पष्ट है गणतंत्र मतलब जनता का शासन अर्थात्

इसमें शक्ति अब आम नागरिक तक आ गया है ।

 

शक्ति वितरण कुछ इस प्रकार होता है-

a) सरकार के विभिन्न अंगों के बीच शक्ति का

विभाजन:

             इसमें शक्ति का क्षैतिज वर्गीकरण होता है ।

इसके अंतर्गत सरकार के तीन अंग कार्यपालिका, 

विधायिका और न्यायपालिका के बीच शक्ति का

वितरण किया जाता है  ।

 

b) सरकार के बीच विभिन्न स्तर पर विभाजन:

                 इसमें शक्ति का उदग्र वितरण होता है  ।

जैसे सबसे ऊपर केंद्र स्तर होता है फिर राज्य स्तर

और पंचायत स्तर  । 

 

c) विभिन्न सामाजिक समूह के बीच शक्ति का 

वितरण:  

          जाति, धर्म या भाषा के आधार पर विभिन्न

वर्गों को शक्ति दिया जाता है जैसे आरक्षित

सीट जाति और लिंग के आधार पर दिया जाता है ।

इससे ये होता है कि समाज का जो वर्ग पिछड़ा

रह जाता है उसे मुख्य धारा में लाया जाता है  ।

इससे वह वर्ग भी सरकार के साथ जुड़ा हुआ

महसूस करता है  ।

 

d) राजनीतिक पार्टी, दबाव समूह और संगठन के

बीच शक्ति:

                विरोधी पार्टी सत्ता में बैठे पार्टी पर सही

काम करने का दबाव बना सकती है  । वैसे ही

विभिन्न संगठन जैसे- श्रमिक का, व्यापारी का,

 उद्योगपतियों को अधिकार होता है कि वो अपना 

माँग सरकार के पास रख सकती है या नीति 

बनाने में अपना योगदान देती है  ।

 

4) Federal system of government:

 

 

5) शक्ति विभाजन का लाभ:

a) यह अच्छा होता है क्योंकि सामाज के वर्गों के

बीच द्वंद को कम करता है  ।

b) इससे राजनीतिक स्थिरता होता है  ।

c) यह राष्ट्र के एकता को बढ़ाता है  ।

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

b) ऑब्जेक्टिव प्रश्न उत्तर

1) 


(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

c) लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर 

1) आधुनिक गणतंत्र में शक्ति विभाजन का

विभिन्न प्रकार क्या है  ? वर्णन करें  ।

2) शक्ति विभाजन के लिए एक उचित कारण

देकर समझाएं  ।

3) लोकतंत्र में विपक्ष की क्या भूमिका होती है  ? 

4) सत्ता की साझेदारी से क्या तात्पर्य है  ? 

 

 

              :Keywords:

🔎 class 10th political science 2023

🔎 bihar board political science in
hindi 2023

🔎 political science model question answer bihar board 2023

🔎 social science mcq bihar board 2023

🔎 सामाजिक विज्ञान बिहार बोर्ड 2023

🔎 vvi question answer bihar board 2023

🔎 matric social science model paper
2023

🔥🔥🔥🔥🔥🔥🔥🔥🔥🔥🔥🔥🔥

🚨 बिहार  बोर्ड   दसवीं   और     बारहवीं

के लिए कम समय में बेहतर करने के लिए

Alok Official  वेबसाइट  के सभी पोस्ट

को देखें ।

 

Alok  Official   class  12th  का

भौतिकी,रसायनशास्त्र, हिन्दी,   English,

जीवविज्ञान और  दसवीं का विज्ञान (भौतिकी,

रसायनशास्त्र, जीव विज्ञान) ,हिंदी,सामाजिक 

विज्ञान (इतिहास,  भूगोल, अर्थ  शास्त्र, 

राजनीति विज्ञान)  के   लिए  ऑब्जेक्टिव

 और सब्जेक्टिव दोनों का  तैयारी करवाता

आधुनिक पैटर्न के आधार पर कराता  है ।  

कम  समय   में बेहतर तैयारी के लिए हमारे 

साथ जुड़ें रहें ।

 

यदि  आपका  कोई सगा-संबंधी दसवीं या 

बारहवीं  में  पढ़ता  हो  तो  उसके    साथ 

जरुर share करें । 

                   

                ❣️ THANK YOU❣️

🎯🎯🎯🎯🎯🎯🎯🎯🎯🎯🎯🎯🎯🎯

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Verified by MonsterInsights